Sunday, Jan 20, 2019

एनएच 24 पर जाम से नहीं मिली राहत

राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर बिकराल गड्ढों में ट्रकों के फंस जाने से जाम का यह सिलसिला एक बार फिर से शुरू हो गया है। सोमवार की रात से गड्ढों में ट्रकों के फंसने से लगा जाम मंगलवार को भी जारी रहा। जिसके चलते लोगों को आवागमन करने में काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है।बीते एक पखवारे तक लगातार जाम लगने से लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी थी। राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर बैरनपुर, देवरिया, खांवपुर, मलसा, डुहीया आदि गांव के पास सड़क पर बने प्रलयंकारी गड्ढे अब भयावहता का प्रतीक बन चुके है। इन गड्ढों में अब तक प्रशासन की तरफ से ईंट व मलबा सिर्फ औपचारिकता पूरा करने के लिये ही डाला गया हैं। प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में ट्रकों के लगातार आवागमन से गड्ढे और बडे़ होते जारहे है। इन गड्ढो में रोज कहीं न कहीं ट्रक फंस जारहे है। जिन्हे निकालना अब मुश्किल ही नहीं नमुमकीन सा होता जा रहा है। वही सड़क पर कहीं भी गिट्टी व पीच दिखायी नहीं दे रही है। मंगलवार को मेदनीपुर से जमानियां तक 20 किलोमीटर तक लंबा जाम राहा। रोड की इस दशा के चलते जाम में जमानिया से लेकर मेदनी पुर तक कहीं न कहीं स्कूल की बस भी फंस जा रही है। जिससे बच्चों का स्कूल जाना भी बन्द सा हो गया है। कहीं ना कहीं रोज स्कूली बसें फंसी दिखाया दे जाती है। रोड की इस भयावह स्थिति के चलते अभिभावक बच्चों को स्कूल भेजने से डरने लगे हैं। वहीं रोज जिला मुख्यालय व जमानियां तहसील जाने वाले लोग बाईपास रोड के जरीये पहुंच रहे हैंं। जाम के चलते मतसा गांव के पास लग रही साप्ताहिक सब्जी बाजार महीने भर से बन्द है। जिससे मतसा तथा अगल बगल के गांव के लोगों को सब्जी की किल्लत से भी जूझना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि एन एच 24 पर जाम का यह सिलसिला अब महामारी बन चुका है।

Add new comment

Image CAPTCHA