Sunday, Jan 20, 2019

सपा 2012 के मुकाबले 2017 में कहाँ

उत्तर प्रदेश के चुनावी परिणाम ने समाजवादी पार्टी को प्रदेश में ऐसी स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया है जिसकी किसी ने भी कल्पना नहीं की थी। प्रदेश में सपा को महज 47 सीटें हासिल हुई और इसे 2012 की तुलना में 177 सीटें का नुकसान उठाना पड़ा। पार्टी के कई बड़े नेताओं को हार का मुंह देखना पड़ा जिसमें कई मंत्री भी शामिल हैं। यूपी में अखिलेश यादव की इस हार के पीछे की सबसे बड़ी वजह उनके परिवार के भीतर कलह और कांग्रेस के साथ गठबंधन को माना जा रहा है। यूपी चुनाव के नतीजे जिस तरह सामने आए, उसने अखिलेश यादव की उम्मीदों पर पूरी तरह से पानी फेर दिया। अखिलेश यादव के सबसे बड़े प्रोजेक्ट को जनता ने अपना समर्थन नहीं दिया। लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे प्रदेश के 10 जिलों से होकर गुजरता है जिसमें लखनऊ, हरदोई, उन्नाव, कन्नौज, कानपुर, मैनपुरी, इटावा, फिरोजाबाद, आगरा और औरेया शामिल है, इन जिलों की कुल 60 सीटों में सपा को सिर्फ 10 सीटें हासिल हुई जबकि भाजपा को 48 सीटों पर जीत मिली है।

Add new comment

Image CAPTCHA